हदीस: फज़र और असर पाबन्दी से अदा करना।

हदीस: फज़र और असर पाबन्दी से अदा करना।

۞ हदीस: रसूल अल्लाह ﷺ ने फ़रमाया: 

"हरगिज़ वह शख़्स जहन्नम में दाखिल नहीं होगा जो सूरज निकलने से पहले और सूरज डूबने से पहले नमाज़ पढ़ता है। यानि फज्र और अस्र की नमाज़।"



एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने

Trending Topic