बिना सही दलील के कोई मैसेज किसी को मत भेजो

बिना सही दलील के कोई मैसेज किसी को मत भेजो

 बिना सही दलील के कोई मैसेज किसी को मत भेजो

ऐ ईमानवालो!
अगर कोई बदकिरदार तुम्हारे पास कोई खबर लेकर आए
तो खूब तहक़ीक़ कर लिया करो (ऐसा न हो) कि तुम किसी क़ौम को
नादानी से नुक़सान पहुँचाओ फिर अपने किए पर नादिम हो!

Surah Al-Hujurat | Verse 6

रसूलअल्लाह (सलल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया: 

"जो शख्स मेरे नाम से वह बात(हदीस) बयान करे जो मेंने नहीं कही,
तो वह(शख्स) अपना ठिकाना जहन्नुम में बना ले।"

Sahih Bukhari:109 

रसूलअल्लाह (सलल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया:

"किसी शख्स के झूठा होने के लिये यही काफी है कि
वो जो कुछ सुने(बिना तहकीक किये)बयान करता फिरे।"

Sahih Muslim:7,8,9,10,11

अल्लाह तआला हमे कहने सुनने से ज्यादा अमल की तौफीक दे, 
और हर तरह के फ़ितनो से हमारे इमां की हिफाज़त फरमाए, अमीन। 

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने